Categories: BiographyMotivation

Google CEO Sundar Pichai Biography In Hindi. सुंदर पिचाई सफलता की कहानी।

Google CEO Sundar Pichai Biography: – दोस्तों हमारे लिए इससे ज्यादा गर्व की बात क्या होगी कि एक भारतीय व्यक्ति को दुनिया के सबसे बड़ी कंपनी Google के CEO के रूप में चुना गया हो। आखिर कुछ तो बात है हम भारतीयों में जिससे दुनिया हमारी इतनी दीवानी है। दोस्तों आज मैं बात करने जा रहा हूं Google CEO Sundar Pichai success story के बारे में, जिन्होंने तमिलनाडु की गलियों से इस दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी Google के CEO बनने तक का सफर तय किया। दोस्तों इस ऊंचाई पर पहुंचना हर किसी के बस की बात तो नहीं है लेकिन सच्चे दिल से अगर कुछ कर जाने की इच्छा हो ना तो इस दुनिया में कुछ भी असंभव नहीं हैं।

Google CEO Sundar Pichai Biography In Hindi. सुंदर पिचाई सफलता की कहानी।

Google CEO Sundar Pichai Biography: – Sundar Pichai का वास्तविक नाम SundarRajan Pichai है। उनका जन्म 12 जुलाई 1972 को तमिलनाडु के एक छोटे से गांव में हुआ था। उनके पिता का नाम रघुनाथ पिचाई और मां का नाम लक्ष्मी है। Sundar Pichai के पिता रघुनाथ पिचाई एक electrical engineer (इलेक्ट्रिकल इंजीनियर) थे और उन्हीं से पिचाई को भी टेक्नोलॉजी से जुड़ने की प्रेरणा मिली। जब Sundar Pichai 12 साल के थे तो उनके पिता घर में एक लैंडलाइन फोन लेकर आए, आज जो दुनिया के सबसे बड़े टेक कंपनी के शीर्ष स्थान पर कार्यरत हैं उनके जीवन में यह सबसे पहला टेक्नोलॉजी से जुड़ा हुआ कोई वस्तु था।

Sundar Pichai में एक बहुत ही विशेष गुण था, वो आसानी से अपने टेलीफोन में डायल किए गए सभी नंबरों को याद कर लिया करते थे। और आज भी उनसे उन नंबरों के बारे में पूछे जाने पर वह नंबर याद रहते हैं। दरअसल सिर्फ फोन नंबर ही नहीं उन्हें हर प्रकार के नंबर आसानी से याद रह जाते थे। पढ़ाई में तो वो अच्छे थे ही साथ ही साथ वह क्रिकेट के भी दीवाने थे। और अपने स्कूल के क्रिकेट टीम की कप्तानी भी करते थे।

Read also: –

  1. Elon musk biography in Hindi.
  2. Mahatma Gandhi biography in Hindi.

Sundar Pichai ने जवाहर विद्यालय में अपनी 10वीं की पढ़ाई पूरी की। फिर चेन्नई के वाणावादी स्कूल में अपनी 12वीं की परीक्षा और फिर IIT खड़कपुर से अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई पूरी की। अपनी लगन और मेहनत के बल पर उन्होंने हर जगह टॉप किया और IIT में उन्हें “रजत पदक” से भी सम्मानित किया गया। छात्रवृत्ति पाकर आगे की पढ़ाई के लिए उन्होंने कैलिफोर्निया के स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में प्रवेश ले लिया और भौतिक विज्ञान में master in science की डिग्री पूरी की। आखिर में वह MBA की पढ़ाई के लिए व्हार्टन स्कूल यूनिवर्सिटी आफ पेंसिलवेनिया चले गए। Google से जुड़ने से पहले Sundar Pichai, Mckinsey & Company और Applied Materials में भी अपना योगदान दिया था।

Google CEO Sundar Pichai Biography In Hindi. सुंदर पिचाई सफलता की कहानी।

Google CEO Sundar Pichai Biography: –   Sundar Pichai 2004 में पहली बार Google से जुड़े थे। शुरू शुरू में उन्होंने एक छोटी सी टीम के साथ गूगल सर्च टूल बार ( Google Search Tool Bar ) पर काम किया google में काम करते समय Sundar Pichai के मन में एक नया idea आया वह था खुद का internet browser बनाने का। उस समय के Google के CEO से Pichai ने खुद के इंटरनेट ब्राउज़र ( internet browser ) बनाने की बात की तो बहुत महंगा प्रोजेक्ट कह कर उन्होंने मना कर दिया।

लेकिन Sundar Pichai ने हार नहीं मानी और google के अन्य पार्टनर से बात करके उन्हें मना लिया। 2008 में Sundar Pichai की मदद से google ने खुद का web browser लांच किया जिसका नाम क्रोम ( chrome ) दिया गया। आज के समय में google chrome दुनिया का सबसे ज्यादा इस्तेमाल किए जाने वाला browser है। यही गूगल कंपनी में सुंदर पिचाई का टर्निंग प्वाइंट था उनकी लगन को देखते हुए उन्हें हर प्रोडक्ट के तीर्थ स्थान प्राप्त होते गए।

देखते ही देखते Pichai CEO की दौड़ में भी शामिल हो गए। Google के CEO बनने से पहले sunder Pichai के पास Microsoft और Twitter का भी ऑफर आया। लेकिन उनकी लगन और मेहनत को देखते हुए Google ने उन्हें बहुत सारे पैसे बोनस के रूप में देकर उन्हें रोक लिया। और आखिरकार 10 अगस्त 2015 को Sundar Pichai को दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी Google का CEO बना दिया गया। इतनी बड़ी सफलता के पीछे Sundar Pichai के सरल स्वभाव का भी बहुत बड़ा हाथ है, उनके सरल स्वभाव की वजह से उन्हें हर कोई बहुत मानता था।

दोस्तों अंत में बस मैं यह कहना चाहूंगा कि

  • जब इरादा बना लिया ऊंची उड़ान का ,
    फिर फिजूल है कद आसमान का ।।

उम्मीद करता हूं कि आपको यह लेख ( Google CEO Sundar Pichai Biography In Hindi. सुंदर पिचाई सफलता की कहानी। ) पसंद आया होगा। इस artical को आप अपने दोस्तों के साथ जरूर Share करें। और आपको यह कहानी कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं। आपका बहुमूल्य समय देने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद।

Yogi

Recent Posts

5 Tips For Personality Development | 5 बातें व्यक्तित्व विकास के लिए | Best Motivational speech।

5 Tips For Personality Development ऐसा क्यों होता है? जिन लोगों की हम सबसे ज्यादा… Read More

सितम्बर 15, 2020

10 types of toxic people | इन 10 तरह के लोगों से हमेशा दूर रहें | inspirational speech | motivational speech

10 types of toxic people जिंदगी में अगर सही इंसान कोई आ जाए तो आपकी… Read More

सितम्बर 9, 2020

7 Best Daily Habits for Your Success | 7 आदतें आपकी सफलता के लिए।

Best Daily Habits for Your Success Habits यानी की आदतें। आपकी आदतें हि आपका भविष्य… Read More

सितम्बर 5, 2020

How to become Rich in real life.| अमीर कैसे बनें।

How to become Rich in real life.|अमीर कैसे बनें? Skills जो हमें एक extra advantage… Read More

सितम्बर 2, 2020

Carryminati success story.| Biography | Carryminati सफलता की कहानी।

Carryminati success story: - कहते हैं कि सफलता के पीछे भी बहुत सारी असफलताओं का… Read More

अगस्त 27, 2020

Dashrath Manjhi-The Mountain Man Biography In Hindi | दशरथ मांझी का जीवन परिचय।

माना कि जिंदगी कांटो भरा सफर है लेकिन इस्से गुजर जाना ही अस्ली पहचान है।… Read More

अगस्त 25, 2020